Breaking News
Home / Featured / बर्लिन में खूनी ट्रक ने ली 12 लोगों की जान, हादसा है या आतंकी हमला जांच जारी

बर्लिन में खूनी ट्रक ने ली 12 लोगों की जान, हादसा है या आतंकी हमला जांच जारी

बर्लिन: पश्चिम यूरोपीय देश जर्मनी की राजधानी बर्लिन में सोमवार शाम एक खूनी ट्रक ने 12 लोगों की जान ले ली. बर्लिन के भीड़भाड़ वाली एक बाजार में अचानक एक ट्रक लोगों को रौंदता हुआ आगे बढ़ा. ये एक हादसा है या आतंकी हमला इसकी जांच जारी है.

बर्लिन के भीड़भाड़ वाले बाजार में घुसा ट्रक

बर्लिन के बीचो बीच एक मार्केट में कल शाम क्रिसमस की रौनक दिख रही थी. अचानक एक बड़े से ट्रक के घुसने से पूरी रौनक फीकी पड़ गई. यहां एक ट्रक अचानक भीड़ में घुस गया और कई लोगों को रौंदता हुआ तेजी से आगे बढ़ गया.

जिस वक्त ये ट्रक लोगों को रौंदता हुआ आगे बढ़ रहा था उस वक्त ब्रिटिश नागरिक माइक फॉक्स भी इसी बाजार में थे. ट्रक में सवार एक शख्स मारा गया है. पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार भी किया है. जिसे ट्रक ड्राइवर समझकर पूछताछ की जा रही है.

berlin-2

 

 

 

 

 

 

 

फ्रांस के नीश में भी ट्रक से आतंकी हमला हुआ था

जर्मनी सरकार ने कहा है कि अभी ये कहना मुश्किल है कि ये हादसा था या आतंकवादी हमला. लेकिन जिस तरह से ट्रक भीड़भाड़ वाले इलाके में घुसा इसने फ्रांस के नीश में हुए आतंकी हमले की याद दिला दी.

इसी साल 14 जुलाई की शाम जब फ्रांस नेशनल डे का जश्न मना रहा था तो इसी तरह एक ट्रक लोगों को रौंदता हुआ चला गया था. फ्रांस में हुए इस आतंकी हमले में 86 लोग मारे गए थे.

berlin-3

सार्वजनिक जगहों पर हमले की चेतावनी थी

ट्रक से हुए इस हादसे को फ्रांस हमले से इसीलिए जोड़ा जा रहा है क्योंकि अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंट ने एक चेतावनी जारी की थी. चेतावनी में बाजार और सार्वजनिक जगहों पर आतंकी संगठन आईएस और अल कायदा से हमले की आशंका जताई गई थी. ये चेतावनी क्रिसमस जैसे मौके को लेकर थी. आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट और अल कायदा ने अपने समर्थक आतंकवादियों को ट्रक के जरिए ही हमला करने को कहा है.

About admin

Check Also

Capt.-Amarinde-jathedar

ਨਸ਼ੇ ਦੇ ਖਿਲਾਫ ਸੰਦੇਸ਼ ਦੇਣ ਲਈ ਕੈਪਟਨ ਨੇ ਅਕਾਲ ਤਖਤ ਦੇ ਜੱਥੇਦਾਰ ਨੂੰ ਲਿਖਿਆ ਮੰਗ ਪੱਤਰ

ਅੱਜ ਪੰਜਾਬ ਨਸ਼ੇ ਦੇ ਦਲਦਲ ਵਿੱਚ ਬੂਰੀ ਤਰ੍ਹਾਂ ਫੱਸ ਚੁੱਕਿਆ ਹੈ।ਹਰ ਕਿਸੇ ਨੂੰ ਇਸਦੀ ਚਿੰਤਾ ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

My Chatbot
Powered by Replace Me