Breaking News
Home / Delhi / ऑस्ट्रेलियाई के ‘माइंड गेम’ का नहीं पड़ेगा भारतीय टीम पर असर: चेतेश्वर पुजारा

ऑस्ट्रेलियाई के ‘माइंड गेम’ का नहीं पड़ेगा भारतीय टीम पर असर: चेतेश्वर पुजारा

धर्मशाला: आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली जा रही चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के आखिरी और निर्णायक टेस्ट मैच से पहले गुरुवार को भारतीय टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि विपक्षी टीम द्वारा खेले जा रहे ‘माइंड गेम’ का विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम पर कोई असर नहीं पड़ेगा. पुजारा ने कोहली को महान कप्तान बताया और कहा कि टीम इस समय सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दे रही है, किसी और चीज पर नहीं.

पुजारा का यह बयान आस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ, आस्ट्रेलियाई के कुछ अन्य खिलाड़ियों, क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) के मुखिया जेम्स सदरलैंड द्वारा कोहली की आलोचना करने के बाद आया है.

पुजारा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, “इस तरह की बातें सुनना निराशाजनक है. हम विराट कोहली के साथ हैं. वह खेल के सच्चे दूतों में से एक हैं.”

उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि ध्यान कहीं और चला गया है, जो नहीं जाना चाहिए था. हमारा ध्यान मैच पर है. वह महान कप्तान हैं. हम अगले मैच के लिए तैयार हैं.”

पुजारा ने रांची में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाया था और भारत की तरफ से गेंदों के लिहाज से सबसे बड़ी पारी खेली थी. उन्होंने 525 गेंदों में 202 रन बनाए थे.

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि बात जब धैर्य की आती है तो फिर सभी कुछ मेहनत पर टिक जाता है. मैंने आठ साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था. 13 साल की उम्र में मैंने अपने राज्य के लिए पहला मैच खेला. तब से मैं यह प्रारूप खेल रहा हूं. मेरा मानना है कि घरेलू क्रिकेट में खेलना और लगातार कड़ी मेहनत करना मेरे काम आ रहा है.”

उन्होंने कहा, “मैं यह कह सकता हूं कि मैं उस समय से गुजर रहा हूं जब सभी कुछ मेरे साथ सही हो रहा है क्योंकि मैं जानता हूं कि किस तरह से क्या करना है. कैसे बल्लेबाजी को जारी रखना है. खेल के लंबे प्रारूप में कैसे एकाग्र रहना है.”

पुजारा ने कहा, “मैं जब बल्लेबाजी करता हूं तो ज्यादा नहीं सोचता. मैं अपना दिमाग खाली रखने की कोशिश करता हूं.”

पुजारा ने कहा कि उन्हें स्वास्थ्य लाभ से भी काफी मदद मिली है.

उन्होंने कहा, “मैं अपनी खुराक पर ध्यान दे रहा हूं. मैं समय पर सोने की कोशिश करता हूं और अच्छी नींद लेने की कोशिश करता हूं. मैच खत्म होने के बाद मेरी निश्चित दिनचर्या होती है जिसका मैं पालन करता हूं. मैं इसी पर ध्यान देने की कोशिश करता हूं.”

धर्मशाला में पहली बार टेस्ट मैच का आयोजन हो रहा है. पुजारा ने इस मैदान की विकेट के बारे में कहा, “यह अच्छी विकेट लग रही है. हमने धर्मशाला में भी काफी क्रिकेट खेली है.”

उन्होंने कहा, “हमने यहां काफी प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेली है. हम उन चीजों पर ध्यान देने की कोशिश करेंगे जिन पर ध्यान दिया जाना चाहिए ना कि इस पर कि विकेट कैसा होगा. हमने इस सत्र में कई तरह की विकेट पर मैच खेला है.”

About admin

Check Also

ਜੁਲਾਈ ਦੇ ਇਹਨਾਂ ਦਿਨਾਂ ਦੌਰਾਨ ਬੰਦ ਰਹੇਗਾ ‘ ਵਿਰਾਸਤ ਏ ਖਾਲਸਾ ’

  ਆਨੰਦਪੁਰ ਸਾਹਿਬ, ਇਥੇ ਸਥਿਤ ਵਿਰਾਸਤ ਏ ਖਾਲਸਾ ਛਿਮਾਹੀ ਰੱਖ-ਰਖਾਵ ਅਧੀਨ  23 ਜੁਲਾਈ ਤੋਂ 31 ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

My Chatbot
Powered by Replace Me